सुनक से भारत-ब्रिटेन संबंधों को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की उम्मीद

आशा की जानी चाहिए कि सुनक इस दिशा में तत्पर होंगे और ब्रिटेन तथा भारत के संबंधों को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की दिशा में मजबूत कदम बढ़ाएंगे।

टिश सत्ता के शीर्ष पर एक भारतवंशी का काबिज होना निश्चित तौर पर भारत के लिए भी गर्व की बात है लेकिन यह पहला अवसर नहीं है जब किसी देश की कमान किसी भारतवंशी के हाथ में आई हो। इसके पहले भी अनेक ऐसे देश हैं जहां भारतवंशी सत्ता के शीर्ष पर पहुंचे अथवा वर्तमान में भी सर्वोच्च पद पर काबिज हैं। सुनक का ब्रिटेन का प्रधानमंत्री बनना इसलिए अहम है क्योंकि ब्रिटेन ने भारत पर 200 वर्ष तक राज किया और आज समय ऐसा बदला कि एक भारतवंशी ही ब्रिटेन का शासक और उसका भाग्यविधाता है।
जारी रखें

Welcome Back!

Login to your account below

Create New Account!

Fill the forms below to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.